Related Top Articles

क्यों है सिंगल यूज प्लास्टिक बैन ?

  • 0
  • 55

Hello world

क्यों है सिंगल यूज प्लास्टिक बैन ?
.
देश में 1 जुलाई से सिंगल यूज प्लास्टिक के 19 आइटम्स पर बैन लगा दिया गया है। इसका उल्लंघन करने पर जेल से लेकर आर्थिक दंड या दोनों की कार्रवाई हो सकती है। दरअसल सिंगल यूज प्लास्टिक का इस्तेमाल पर्यावरण के लिए इतना खतरनाक है कि दुनिया के तमाम देश ना केवल इसे लागू कर चुके हैं बल्कि कड़ी कार्रवाई भी करते हैं।
.
सिंगल यूज प्लास्टिक वो प्लास्टिक है जो गुटका से लेकर दूध की थैलियों तक में इस्तेमाल किया जाता है और एक ही बार इस्तेमाल करके फेंक दिया जाता है। इन्हें आसानी से नष्ट नहीं किया जा सकता है। इसे रिसाइकिल नहीं किया जा सकता और न ही इन्हें जलाया जा सकता है। जमीन से लेकर नदियों और समद्रों में ये कचरा पहुंच चुका है। इससे पर्यावरण में जहरीले रसायन शामिल होते हैं जो इंसान और पशु दोनों के लिए हानिकारक साबित होते हैं।
.
संयुक्त राष्ट्र के अनुसार 80 देशों में प्लास्टिक के सिंगल यूज पर पूरी तरह या आंशिक तौर पर प्रतिबंध लगा रखा है। भारत में रोज 1.5 लाख मीट्रिक टन कचरा रोज निकलता है, जिसमें 9589 मीट्रिक टन प्लास्टिक वेस्ट होता है। इसमें केवल 30 फीसदी प्लास्टिक ऐसा होता है जो रिसाइकल हो पाता है लेकिन 70 फीसदी ट्रीट नहीं किया जा पाता।
.
Visit us  @ www.justlearning.in
.
.
#singleuseplastic #plastic #plasticitems #plasticban #climatechange #environmentfriendly #skillshare #education #virtuallearning #k12 #education #justlearning


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!