Related Top Articles

देश के ध्वज संहिता में बदलाव, अब दिन-रात फहरा सकेंगे तिरंगा

  • 0
  • 66

Hello world

देश के ध्वज संहिता में बदलाव, अब दिन-रात फहरा सकेंगे तिरंगा

.

सरकार ने देश के ध्वज संहिता (Flag code) में बदलाव किया गया है। इसके बाद अब दिन और रात दोनों समय झंडा फहराए जाने की अनुमति मिल गई है। साथ ही, मशीन और पॉलिएस्टर से बने ध्वजों का उपयोग करने की भी अनुमति होगी। इस साल आजादी के 75 साल पूरे होने के मौके पर आजादी का 'अमृत महोत्सव' के तहत सरकार द्वारा 'हर घर तिरंगा' अभियान शुरू किया जा रहा है।

आइये जानते हैं क्या है ध्वज संहिता और 'हर घर तिरंगा' अभियान।

.

दरअसल, भारतीय ध्वज संहिता 2002 में 20 जुलाई 2022 को संशोधन किया गया है और अब भारतीय ध्वज संहिता, 2002 के भाग-दो के पैरा 2.2 के खंड (II) को इस तरह पढ़ा जाएगा: ""जहां ध्वज खुले में प्रदर्शित किया जाता है या किसी नागरिक के घर पर प्रदर्शित किया जाता है, इसे दिन-रात फहराया जा सकता है।"" अब हाथ या मशीन से बना हुआ कपास/पॉलिएस्टर/ऊन/रेशमी खादी से बना तिरंगा भी अपने घर पर फहराया जा सकता है। झंडे का आकार आयताकार होना चाहिए। तिरंगा कभी भी मैला कुचैला नहीं होना चाहिए।

.

बता दें कि इससे पहले तिरंगे को केवल सूर्योदय से सूर्यास्त तक ही फहराने की अनुमति थी। चाहे फिर मौसम कैसा भी हो। पहले, मशीन से बने और पॉलिएस्टर से बने राष्ट्रीय ध्वज को फहराने की अनुमति नहीं थी।

.

सरकार द्वारा आजादी के 75वें साल पर आजादी का 'अमृत महोत्सव' कार्यक्रम के तहत लोगों को तिरंगा घर लाने और इसे फहराने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए ""हर घर तिरंगा'' अभियान शुरू किया गया है। इस दौरान 13 से 15 अगस्त के बीच 20 करोड़ से ज्यादा घरों की छत पर तिरंगा फहराया जाएगा। इसमें सरकारी व निजी प्रतिष्ठान भी शामिल होंगे।

.

Visit Us @ www.justlearning.in

India's first community portal for K-12

.

.

#flag #flagcodeamended #flagcode #flagcodeofindia2022 #tricolour #amends #generalawareness #tricolouraftersunset #indianflag #communityplatform #k12 #education #justlearning


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!