Related Top Articles

विश्व जनसंख्या दिवस 2022

  • 0
  • 17

Hello world

विश्व जनसंख्या दिवस 2022

.

हर साल 11 जुलाई को जनसंख्या नियंत्रण के उद्देश्य से विश्व जनसंख्या दिवस (World Population Day) मनाया जाता है। लगातार बढ़ती जनसंख्या ने विकास को प्रभावित किया है। इससे बेरोजगारी, भुखमरी, अशिक्षा जैसी समस्याएं बढ़ रही हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए संयुक्त राष्ट्र की ओर से इस दिन को मनाने की शुरुआत की गई। ऐसे में आइये जानते है कि इस दिन का इतिहास और इस साल की थीम क्या है?

.

हर साल इस दिन जनसंख्या को कंट्रोल करने के उपायों पर चर्चा और कई सारे प्रोग्राम ऑर्गनाइज किए जाते हैं। बढ़ी हुई जनसंख्या की वजह से देश और दुनिया के सामने जो परेशानियां हैं, उनसे हमारे इको सिस्टम और मानवता को नुकसान पहुंचता है, उसके प्रति लोगों में जागरुकता लाने के लिए ये दिन मनाया जाता है। परिवार नियोजन, गरीबी, लैंगिक समानता, नागरिक अधिकार, मां और बच्चे का स्वास्थ्य, गर्भनिरोधक दवाओं के इस्तेमाल जैसे गंभीर विषयों पर चर्चा और विमर्श किया जाता है।

.

यूनाइटेड नेशंस पॉपुलेशन फंड के आकड़ों के मुताबिक, भारत की जनसंख्या वर्तमान में 1.40 अरब के करीब है। वहीं, चीन की जनसंख्या 1.44 अरब है। अनुमान है कि साल 2023 तक भारत चीन को पीछे छोड़कर दुनिया की सबसे बड़ी आबादी वाला देश बन जाएगा। ऐसा इसलिए है कि वर्तमान में चीन की प्रजनन दर 1.7 है। वहीं, इसके मुकाबले भारत में प्रजनन दर अब भी 2 से ऊपर है।

.

विश्व जनसंख्या दिवस 2022 का थीम है '8 बिलियन की दुनिया: सभी के लिए एक लचीले भविष्य की ओर- अवसरों का दोहन और सभी के लिए अधिकार और विकल्प सुनिश्चित करना'। जिसका मतलब है कि दुनिया की आबादी 8 अरब तक पहुंच गई है, लेकिन इनमें से सभी के पास समान अधिकार और अवसर नहीं हैं।

.

Visit us @ www.justlearning.in

.

.

#WorldPopulationDay #indiapopulation #ecosystem #populationcontrol #worldpopulationday2022 #worlddaycelebrations #education #virtuallearning #skillshare #k12 #education #justlearning


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!