Related Top Articles

लेक्चरर ने बनाई सोलर कार, ये हैं इसकी खासियत

  • 0
  • 7

Hello world

हमारे देश में टैलेंट की कमी नहीं है। कश्मीर के एक युवा अविष्कारक और पेशे से लेक्चरर बिलाल अहमद ने 11 साल के कड़ी मेहनत कर सौर ऊर्जा से चलने वाली एक लक्ज़री कार बनाई है। उन्होंने एक पुरानी कार को सोलर कार में परिवर्तित किया है। आज के समय में जिस तरह से पेट्रोल व डीजल की कीमतों और पर्यावरण प्रदूषण एक गंभीर समस्या बनी हुई है, वहीं बिलाल के इस प्रोजेक्ट ने लोगों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया है।

इस पूरी कार के ऊपर सोलर पैनल लगे हुए हैं। यहां तक कि सुपर कार की तरह से यह कार खुल भी जाती है और फिर सौर ऊर्जा से यह चार्ज होती है। संतनगर के रहने वाले बिलाल दिव्यांगों के लिए लग्जरी कार बनाना चाहते थे। लेकिन आर्थिक दिक्कतों के कारण ऐसा नहीं कर पाए। इसके बाद उन्होंने सौर ऊर्जा से चलने वाली कार बनाने की योजना बनाई।

बिलाल ने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है और अभी वो एक प्राइवेट कॉलेज में पढ़ाते भी हैं। उन्होंने कई कारों पर रिसर्च कर इस कार को बनाया है जो कश्मीर के वातावरण के हिसाब से अनुकूल है। यहां तक कि जब यह कार चलती है तो इसकी आवाज भी नहीं आती। इस कार को बनाने में 16 लाख रुपये खर्च आये है। इस कार को रिमोट कंट्रोल से भी चलाया जा सकता है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!