Related Top Articles

भारत की पहली 'नाइट स्काई सैंक्चुअरी' लद्दाख में होगी स्थापित

  • 0
  • 4

Hello world

भारत की पहली 'नाइट स्काई सैंक्चुअरी' की स्थापना लद्दाख में की जाएगी। तीन महीने के भीतर पूरा किए जाने वाले इस प्रोजेक्ट को लद्दाख में चांगथांग वन्यजीव अभयारण्य में मूर्तरूप दिया जाएगा। यह प्रोजेक्ट देश में एस्ट्रो-टूरिज्म को बढ़ावा देने में काफी मददगार साबित होगा। लद्दाख के हनले में पूरा किए जाने वाले इस प्रोजेक्ट की साइट दुनिया की सबसे ऊंचाई वाली जगह है जोकि ऑप्टिकल, इन्फ्रा-रेड व गामा-रे टेलीस्कोप के लिए सबसे उपयुक्त होगी।

.
बता दें कि हानले क्षेत्र लुभावने वातावरण, क्रिस्टल-क्लियर आसमान, ऊंचे पर्वत, बौद्ध मठों और त्योहारों के लिए सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है। ऐसे में ये सैंक्चुअरी लोगों को एक बेहतर अनुभव दे सकेगी।

.
दरअसल, डार्क स्काई सैंक्चुअरी एक सार्वजनिक या प्राइवेट जमीन होती है जिसमें हम तारों वाली रात देख सकते हैं। इस जगह आसमान क्रिस्टल क्लियर होता है। इसमें एक रात का पूरा एटमॉस्फेयर होता है। एस्ट्रो-टूरिज्म बढ़ने के साथ ही डार्क स्काई रिजर्व साइट में विज्ञान और प्रौद्योगिकी के हस्तक्षेप के माध्यम से लोकल टूरिज्म और अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने में मदद की जा सकेगी।

.
केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने बताया कि अगले साल विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) लद्दाख शिक्षा मेले के लिए एक स्पेशल कैंप लगाएगा। उन्होंने बताया कि डीएसटी, युवाओं को रोजगार के लिए काम करेगा। युवाओं-छात्रों को रोजगार चयन, स्कॉलरशिप, करियर काउंसलिंग, स्किल डेवलपमेंट आदि में भी सहयोग करेगा।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!